Sunday, December 13, 2015

दिल्ली पुलिस के द्वारा OCCUPY_UGC आंदोलन में मार्च कर रहे छात्रों पर बर्बरतापूर्ण हुए लाठीचार्ज के विरोध में बनारस के छात्रों का विरोध प्रदर्शन और स्मृति ईरानी का पुतला दहन |



आज बी.एच.यू. लंका,गेट पर छात्रों ने एक सभा का आयोजन किया |यह आयोजन 9 दिसंबर को छात्र-छात्राओ पर दिल्ली पुलिस के द्वारा किये लाठीचार्ज के विरोध में आयोजित की गयी थी | साथ ही साथ कल 12 दिसंबर को भारतीय प्रधानमंत्री मोदी के साथ जापानी प्रधान मंत्री के बनारस आगमन का विरोध भी हुआ | सभा में साथी रोहित,संदीप,अनूप,सुकेश,जयदेव आदि ने बताया की किस तरह भारत को साम्राजयवादी हाथो में बेचा जा रहा है|वर्तमान सरकार शिक्षा,स्वास्थ्य के साथ साथ,स्मार्ट सिटी के नाम पर गरीबो और किसानो से उनका जमीन छिन कर जापान और अमेरिका जैसे साम्राजयवादी हाथो में दे रहा है इसका एक उदहारण सामने है | नॉन -नेट फ़ेलोशिप को बंद करना भी शिक्षा के बाजारीकरण की और एक सोची समझी कदम है | सभी ने केंद्र सरकार के द्वारा उठाये गए इस अमानवीय कदम का घोर विरोध किया और डेल्ही पुलिस पर करवाई की मांग की | अंत में स्मृति ईरानी का पुतला भी दहन किया गया जिसमे प्रशासन से हाथापाई भी हुई | दिल्ली पोलिस मुर्दाबाद,स्मृति ईरानी शर्म करो,छात्रों पर पुलिसिआ दमन क्यों ?? जबाब दो , सम्राज्वाद मुर्दाबाद,इंकलाब जिंदाबाद ,मोदी सरकार जापानी साम्राज्वाद की दलाली बंद करो आदि नारे भी लगाये गये |










http://bebak24.com/varanasi/students-burned-an-effigy-of-HRD-minister-clash-with-police-18373.html